इस सफर में अभी सबक और बाकी है, ठोकरें मिली है, गहरी चोट और बाकी है…!