“इश्क की दुनिया में महफूज सा हो गया हूँ, इस दुनिया की चकाचौंध में मशगूल सा हो गया हूँ, खुदा ना खास्ता मुलाकात हो गई तन्हाई से, फीके फीके लफ्जों से बयां किया इश्क उसने।”  Read more…

“कभी मैं तुम्हें उस चाँद की चाँदनी में ढूंढने की कोशिश करता हूँ, कभी उस डूबते सूरज की लालिमा में ढूंढने की कोशिश करता हूँ। वहाँ नहीं दिखती हो, तो अपने बगीचे के खुशबूदार फूलों Read more…

art

1.       Continue being friends with him. Talk to him casually. Talk about anything under the sun but don’t talk about your feelings anymore. You shouldn’t make him feel guilty just because he cannot reciprocate your Read more…