एयरपोर्ट के सामने चार मंजिला भवन में लगी आग।

जिला कुल्लू के उपनगर भुंतर में ठीक एयरपोर्ट के सामने राष्ट्रीय राजमार्ग के किनारे बनी मार्केट के एक चार मंजिला व्यवसायिक भवन में बुधवार दोपहर बाद अचानक आग लग गई। फर्नीचर व हैंडलूम के इस शोरुम में आग इतनी भयानक थी कि दमकल विभाग द्वारा एक बार बुझाने बाद, बार-बार आग की लपटें भड़क रही थी। इस घटना के कारण कुल्लू-मनाली नेशनल हाइवे पर लगभग तीन घंटे तक यातायात भी अवरुद्ध रहा और चारों तरफ अफरा-तफरी मची रही।
जानकारी के मुताबकि भुंतर में यह आग मनमोहन गौतम के चार मंजिला मकान की दूसरी मंजिल से शुरु हुई। इस मंजिल में प्रवीण कुमार का फर्नीचर का शोरुम था, जहां से अढ़ाई बजे के करीब धुंआ निकलना शुरु हुआ। तुरंत इसकी सूचना फायर ब्रिगेड को दी गई, लेकिन दमकल वाहन के आने तक आग ने अपना विकराल रूप ले लिया था। ऊपर की दोनों मंजिलों में लकड़ी का सामान और हैंडलूम सामान होने के कारण अाग धिक तेजी ेस आगे बढ़ी। हालांकि अभी आग लगने के कारणों का पता नहीं चल पाया है, लेकिन यदि इस पर समय रहते काबू न पाया जाता तो इससे साथ के अन्य मकान व दुकानों को भी खतरा हो सकता था।
लिहाजा दुकानों से थोड़ा-बहुत ही सामान बाहर निकाला जा सका, बाकी अंदर ही सुलग-सुलग कर जल गया। चार मंजिला इस भवन में सिर्फ ग्राउंड फ्लोर ही बचा रह सका, जबकि ऊपर की तीनों मंजिलों को आग ने अपनी लपेट में ले लिया। मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड की गाड़ियों ने एक बार को आग पर काबू पा लिया, लेकिन बाद में थोड़े-थोड़े समय के बाद लपटें फिर से उठती रही। ईमारती लकड़ी से बनी भवन की खिड़कियों से आगे ऊपर ही चढ़ती रही और बाद में पानी के प्रेशर से भवन में खड़ी की गई सीमेंट ब्लाक की दीवारें तक गिर गई। आग के रौद्र रूप को देखकर भुंतर एयरपोर्ट से भी अग्निशमन वाहन को बुलाना पड़ा। इस दौरान फायर कर्मियों के अलावा भुंतर की पुलिस और स्थानीय लोगों ने भी आग बुझाने में सहयोग दिया।
इसे लेकर दमकल विभाग के अधिकारी दूर्गादास ने बताया कि आग लगने से भवन मालिक को 80 लाख रूपये के नुकसान का आंकलन किया गया है। इसके अलावा फर्नीचर के शोरूम में करीबन 40 लाख रूपये के सामान का क्षति पहुंची है।


Leave a Reply

Your email address will not be published.